0

Short Motivational Hindi Story / Bada Bhikari (Bodh Katha) in hindi

बड़ा भिकारी
Bodh Katha

Bodh Katha . image

Bodh Katha :- ए घटना महाराष्ट्र के शिर्डी की है…..

 

महाराष्ट्र शिर्डी के साई बाबा के दर्शन करने के लिए हर रोज़ लाखों  लोग अपनी मनोकामना

लेकर आते है। और उनकी मनोकामना पूरी भी होती है। इसलिए तो हर रोज़ लाखों की भीड़

में भक्तों का ताता लगा रहता है। कुछ साल पहले की बात है हैद्राबाद से एक बहुत बड़े

व्यापारी श्री शिर्डी साई के दर्शन के लिए आये थे।

 

अब आपको सबको ए तो मालूम है भारत में जहा भी बड़े मंदिर है।  वहा पे भिकारी की

संख्या बहुत ज्यादा होती है। और जितना बड़ा जितना बड़ा मंदिर होगा भिकारियों की संख्या

भी अधिक होगी।

 

*

उस हैद्राबाद से दर्शन के लिए आये हुए बड़े व्यापारी ने एक भिकारी की ओर बहुत ही गूस्से

और घृणा से देखा….और झुंझुलाहट से उस को कहा आ जाते हो मुँह उठा कर भीक माँगने

आछे हट्टे कट्टे हो जा कर काम करो भीक मांगते हुए तुमको शर्म नहीं आती है भिकारी कहीं के।

हम जैसे बड़े लोग इनको भीक देना  बंद करदे तो इनका सब परिवार इनका खानदान भूका ही

मर जाएगा (बहुत ही गुस्से भरे अंदाज़ में उस बड़े व्यापारी ने लोगों के ओर देख कर कहा। )

उस बड़े व्यापारी की बाते सुनकर भिकारी बोला, सेठ जी इस मंदिर में आने वाला हर इंसान

भिकारी ही होता है केवल हम छोटे भिकारी है ग़रीब है इस पापी पेट के लिए करना  पड़ता है

सेठजी।

 

लेकिन मैंने अक्सर यहाँ बड़े बड़े भिखारियों को आते देखा है।

सेठजी आप जैसे बड़े भिखारियों का पेट ही नहीं भरता। …….

 

जो हर बार श्री साई बाबा के पास आकर हर बार अपने अच्छे भविष्य अच्छे जीवन के लिए

लाखों नहीं अरबो -खरबो मांगते फिरते हो। साई के पास मनोकामना करते रहते हो।

तो आप सोचिए सेठजी बड़ा भिकारी कौन है ? आप या में हु।

 

भिकारी की इस बात पे उस बड़े व्यापारी के पास इस का कोई जवाब नहीं था उस की आँखे

खुली की खुली रह गई  वह एक दम निरुत्तर सा हो गया और भिकारी की बात उस के समझ

आ गयी। और उस व्यापारी ने अपना बहुत सारा धन भिकारियों अनाथ गरीबो और पीड़ितों में

दान कर दिया।

बोधकथा

 

realindiaguru

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *